India

गूगल की नौकरी छोड़कर शुरू किया समोसे बेचने का काम, आज बॉलीवुड सितारे भी हैं इनके फैन

हममें से ज्यादातर लोग पढ़ाई नौकरी के उद्देश्य से करते हैं यानी ज्यादातर लोगों का उद्देश्य अच्छी नौकरी पाना होता है और जब गूगल जैसे कंपनी में किसी की नौकरी लग जाती है तो ऐसे लोगों को बड़े ही भाग्यशाली माना जाता है. लेकिन क्या आपने कभी सुना है गूगल जैसे कंपनी में नौकरी मिलने के बाद से किसी ने नौकरी छोड़कर समोसे बेचने का काम शुरू किया हो, अगर नहीं तो आज के इस लेख में हम आपको एक ऐसे शख्स से मिलाने वाले हैं जिन्होंने गूगल की नौकरी छोड़कर समोसे बचने का काम शुरू किया. और यह इस काम में इतने ज्यादा सफल हुए कि बॉलीवुड सितारे भी इनके समोसे की तारीफ करने लगे.

अगर आप खाने के शौकीन हैं तो द बोहरी किचन के बारे में आपने जरूर सुना होगा. इसकी स्थापना मुनाफ कपाड़िया ने किया था. मुनाफ कपाड़िया वैसे तो बचपन से ही पढ़ने में काफी तेज थे और अपने पढ़ाई के दम पर इन्होंने गूगल जैसी बड़ी कंपनी में नौकरी हासिल की थी. हालांकि, कुछ साल पहले एक बार अपने बर्थडे के अवसर पर इन्होंने अपने दोस्तों को खाने पर इनवाइट किया था और इस दौरान इनके दोस्तों को इनके मां के हाथ का बनाया गया खाना काफी ज्यादा पसंद आया था.

इतना ही नहीं इनके दोस्तों ने इनकी मां के हाथ का बनाया गया खाने को काफी ज्यादा सराहा था. अपने दोस्तों से खूब ज्यादा तारीफ मिलने के बाद से मुनाफ ने डायनिंग एक्सपीरियंस की शुरुआत की और ऐसे में यह अक्सर अपने दोस्तों को डायनिंग एक्सपीरियंस के लिए अपने घर पर बुलाया करते थे. इसके बाद मुनाफ को लगा कि उन्हें यह काम करना चाहिए और यही कारण है कि मुनाफ ने अपनी गूगल की नौकरी छोड़कर द बोहरी किचन की शुरुआत कर दी.

द बोहरी किचन अन्य रेस्टोरेंट्स के तुलना में काफी अलग है. यह खाना ऑर्डर करने पर आपको खाना डिलीवर नहीं करती है बल्कि यह डायनिंग एक्सपीरियंस देकर खाना खिलाने का काम करती है और तो और यह लोगों को काफी ज्यादा पसंद आता है. लोग इसकी खूब तारीफ करते हैं यही कारण है कि धीरे-धीरे यह बात पूरे देश में फैलने लगी और यह बात बॉलीवुड सितारों के पास भी पहुंच गई जिसके बाद बॉलीवुड सितारों ने भी मुनाफ के द बौहरी किचन की पकवानों का आनंद उठाया. जिसके बाद बॉलीवुड सितारों ने भी इनकी जमकर तारीफ की. आज यह द बोहरी किचन के वजह से पूरी दुनिया मे काफी ज्यादा पॉपुलर हैं.

Back to top button