India

लाखों के पैकेज की नौकरी छोड़कर शुरू किया बिजनेस, आज करोड़ों में है टर्न ओवर

देशभर में स्टार्टअप की बाढ़ है, ज्यादातर लोग सोचते हैं पढ़ाई लिखाई खत्म करने के बाद वह अपना खुद का स्टार्टअप करें लेकिन स्टार्टव्अप करना इतना आसान नहीं होता. स्टार्ट तो बहुत लोग करते हैं लेकिन सफलता कुछ ही लोगों को मिल पाती है. इस आर्टिकल में हम आपको एक इंजीनियर की कहानी बताने वाले हैं. जिसने मल्टीनेशनल कंपनी में छोड़कर 15 लाख रुपए का लोन लिया था और इसके दम पर स्टार्टअप की शुरुआत की थी. शुरुआत में इसे कम तवज्जो मिली थी, लेकिन अब इसके बिजनेस की वैल्यूएशन करोड़ों में पहुंच चुकी है. इस इंजीनियर ने अनोखे बिजनेस आइडिया के दम पर तमाम लोगों को रोजगार भी दे दिया है.

जिस इंजीनियर के बारे में हम आपसे बात कर रहे हैं उनका नाम अश्विनी राठी है. शुरुआत में इनके लिए एमएनसी कंपनी में नौकरी छोड़कर बिजनेस करना इतना आसान नहीं था लेकिन उन्होंने जैसे – तैसे घरवालों को इसके लिए राजी किया और 15 लाख रुपए का लोन लेकर एक छोटे से कमरे में मोजैक टाइल बनाने का काम शुरू किया था.

इन्होंने मुख्यमंत्री स्टार्टअप्स योजना के तहत 15 लाख रुपए लिए थे और इसी के दम पर इस बिजनेस को आगे बढ़ाने की कसम खाई थी. शुरुआत में इनके इस बिजनेस को कोई खास रिस्पांस नहीं मिला लेकिन यह मेहनत करते गए. धीरे-धीरे उनके द्वारा बनाई गई टाइल मध्य प्रदेश हरियाणा दिल्ली में चर्चित होने लगी और देखते ही देखते इनका यह कारोबार लाखों में पहुंच गया.

बता दें, अश्विनी राठी ने महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय से कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में पढ़ाई की थी. इसके बाद इनका विश्वविद्यालय की तरफ से गुरुग्राम की एक मल्टीनेशनल कंपनी में प्लेसमेंट भी हो गया था और यहां पर इन्हें अच्छा खासा पैकेज मिलने लगा था, लेकिन इन्हें संतुष्टि नहीं मिल रही थी.

जिसके बाद उन्होंने जॉब छोड़ कर खुद का बिजनेस करने का फैसला लिया और 15 लाख का लोन लेकर छोटे से कमरे में ही कारोबार की शुरुआत कर दी. अश्विनी राठी बताते हैं स्लेट और गडसा टाइल बनाने का उनका पुश्तैनी काम है. वह चाहते हैं उनका यह पुश्तैनी काम पूरे देश भर में पॉपुलर हो. बता दें, इनके यहां आज 15 से 20 कर्मचारी काम करते हैं और सबको यह अच्छी खासी मासिक सैलरी दे रहे हैं.

Back to top button