India

रिटायर्ड फौजी ने बंजर जमीन को हरा-भरा बना दिया, अब कमा रहे हैं लाखों रुपए

कहते हैं अगर आप कुछ करने की ठान लें तो आपकी किस्मत भी आपका भरपूर साथ देती है. इस आर्टिकल में हम आपको एक रिटायर्ड फौजी के बारे में बताने वाले हैं. जिसने सेना से रिटायर होकर बंजर जमीन को हरा-भरा बना दिय. यह रिटायर्ड फौजी अब तक 20,000 से अधिक हरे-भरे पौधे लगा चुका है. और तमाम लोगों के लिए प्रेरणास्रोत बन गया है ना सिर्फ इसने पेड़ पौधे उगाए हैं बल्कि हजारों लोगों को खेती किसानी के गुण भी सिखा रहा है.

झुंझुनू राजस्थान के रहने वाले रिटायर्ड फौजी ने 20,000 से अधिक पेड़ पौधे लगाकर लोगों को तो प्रेरणा दी है. साथ ही लाखों रुपए कमा भी लिए हैं. इस रिटायर्ड फौजी का नाम जमील पठान हैं. जब यह भारतीय सेना से रिटायर हुए थे तब उन्होंने 7 एकड़ बंजर जमीन पर खेती करने की प्लानिंग की थी.

शुरुआत में लोगों ने उन्हें खूब सारी बातें बताएं थी, लेकिन उन्होंने किसी की एक न सुनी और इस बंजर जमीन पर खेती करना शुरू कर दिया. किसी ने नहीं सोचा था कि इस बंजर जमीन को यह हरा-भरा बना देंगे लेकिन अब यह सच साबित हो चुका है. इस जमीन में यह 20 हजार से अधिक पेड़ पौधे लगा चुके हैं. इसमें फल और फूलों के पेड़ पौधे भी हैं जिसके दम पर यह लाखों की कमाई भी करते हैं.

जमील पठान के साथ इनका परिवार भी खेती में इनका साथ देता है. इसके अलावा ये हजारों लोगों को खेती-बाड़ी करने की तकनीक सिखा चुके हैं. आपको जानकर हैरानी होगी अभी तक जमील पठान ने 60,000 से अधिक किसानों को ट्रेंड कर दिया है. इनके सहयोग से आज राजस्थान के कई जिलों के काफी इलाकों में हरी भरी जमीन देखी जा रही है. अभी तक इन्होंने कई बंजर जमीनों पर खेती की शुरुआत करवा दी है. बता दें, इन के बेटे इंजीनियर हैं और वह भी अपने पिता के साथ खेती में हाथ बंटाते हैं. भारतीय सेना से रिटायर होने के बाद जमील पठान ने साल 2015 में बंजर जमीन पर खेती करने का फैसला लिया था.

Back to top button