India

अपने जेड प्लस सिक्योरिटी का खर्चा खुद उठाते हैं मुकेश अंबानी, 1 महीने का खर्चा जानकर उड़ जाएंगे आपके होश

मुकेश अंबानी ना सिर्फ भारत बल्कि एशिया के सबसे अमीर व्यापारियों में से एक है. मुकेश अंबानी और इनका परिवार अक्सर किसी न किसी वजह से सुर्खियों में छाया रहता है. हालांकि, इन दिनों मुकेश अंबानी अपने जेड प्लस सिक्योरिटी को लेकर काफी ज्यादा सुर्खियां बटोर रहे हैं.

दरअसल, मुकेश अंबानी को केंद्र सरकार के द्वारा जेड प्लस सिक्योरिटी मिली हुई है, हालांकि मुकेश अंबानी के जेड प्लस सिक्योरिटी के खिलाफ कोर्ट में याचिका दायर की गई थी लेकिन हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने मुकेश अंबानी के जेड प्लस सिक्योरिटी के खिलाफ दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया है और मुकेश अंबानी की सिक्योरिटी वापस लेने वाली बात पर जमकर फटकार लगाई है. दरअसल, मुकेश अंबानी भारत के सबसे बड़े व्यापारियों में से एक हैं और ऐसे में इनको अक्सर जान का खतरा बना रहता है.

साल 2013 में मुकेश अंबानी को हिज्बुल मुजाहिदीन द्वारा धमकी मिला था जिसके बाद से यूपीए की सरकार अर्थात कांग्रेस की सरकार ने इनको जेड प्लस सिक्योरिटी प्रदान की थी और तब से यह सिक्योरिटी मुकेश अंबानी की सुरक्षा कर रही हैं. आपको बता दें कि जेड प्लस सिक्योरिटी दुनिया की सबसे सुरक्षित सिक्योरिटीयों में से एक मानी जाती है और यह सिक्योरिटी हर किसी को नहीं मिलती है. यह चुनिंदा लोगों को ही दी जाती है.

हालांकि, गौर करने वाली बात यह है कि मुकेश अंबानी अपनी जेड प्लस सिक्योरिटी का खर्चा खुद उठाते हैं. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने भी मुकेश अंबानी के जेड प्लस सिक्योरिटी के खिलाफ दायर याचिका को खारिज करते हुए कहा कि जब कोई व्यक्ति अपनी सुरक्षा में लगे सिक्योरिटी का खर्चा खुद उठा रहा है तो उसकी सिक्योरिटी वापस लेने की क्या जरूरत है.

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले ही मुकेश अंबानी के घर के बाहर बम पाए गए थे और इसके वजह से मुकेश अंबानी ने अपनी पर्सनल सिक्योरिटी भी बढ़ा दी थी. वही बात करें जेड प्लस सिक्योरिटी में आने वाले खर्च की तो जेड प्लस सिक्योरिटी में आमतौर पर 15 से 20 लाख खर्चा आता है और यह खर्चा केंद्र सरकार उठाता है लेकिन मुकेश अंबानी अपने सिक्योरिटी का खर्चा खुद उठाते हैं.

Back to top button