India

दसवीं क्लास में लगातार 6 बार हुआ फेल, लेकिन हार नहीं मानी बना दिए 35 हल्के प्लेन मॉडल्स, लोग कहते हैं तारे जमीन वाला लड़का

कहते हैं जीवन में सफल होने के लिए सिर्फ किताबी शिक्षा ही नहीं बल्कि अन्य प्रकार की भी शिक्षाओं की भी आवश्यकता होती है और कई बार कई लोग ऐसे होते हैं जो किताबी शिक्षा में बेहद कमजोर होने के बावजूद भी काफी ज्यादा सफलता हासिल कर लेते हैं और इन्हीं में से एक नाम वडोदरा के प्रिंस पांचाल का है. प्रिंस पांचाल गुजरात राज्य के वडोदरा के रहने वाले हैं. प्रिंस अब तक दसवीं में 6 बार फेल हो चुके हैं. लेकिन प्रिंस ने कुछ ऐसा कर दिखाया है जो बड़े-बड़े टॉपर्स के बस की बात नहीं है. प्रिंस ने साबित कर दिया है कि अगर आप किताबी शिक्षा में कमजोर है फिर भी आप पूरी दुनिया में अपना नाम रोशन कर सकते हैं. दरअसल, प्रिंस पांचाल ने 35 हल्के स्वदेशी विमान मॉडल तैयार किया है.

प्रिंस पांचाल ने 35 हल्के स्वदेशी विमान मॉडल बनाए हैं लेकिन गौरतलब करने वाली बात तो यह है कि प्रिंस पांचाल ने इन मॉडल्स को होर्डिंग और बैनर में इस्तेमाल होने वाले फ्लैट की मदद से तैयार किया है. आपको बता दें कि यह 35 मॉडल उड़ान भरने में पूरी तरह से सक्षम है और इन मॉडल्स को रिमोट कंट्रोल की मदद से उड़ाया जा सकता है.

बता दें कि प्रिंस पढ़ने में शुरू से ही काफी ज्यादा कमजोर रहे हैं और इस बात का अंदाजा आप इसी से लगा लीजिए कि दसवीं क्लास में अब तक प्रिंस 6 बार फेल हो चुके हैं. बार-बार फेल होने की वजह से प्रिंस निराश हो गए थे. ऐसे में इनके दादा जी ने कहा कि तुम कुछ अलग करने का प्रयास करो जिसके बाद इनके दिमाग में ऐसी चीजें आने लगी और फिर इन्होंने इंटरनेट पर इसके बारे में सर्च करना शुरू कर दिया और फिर इंटरनेट की मदद से इन्होंने काफी ज्यादा रिसर्च किया और फिर यह मॉडल्स बनाकर तैयार कर दिया.

बता दें कि प्रिंस पांचाल का कहना है कि जब यह दसवीं क्लास में फेल हो रहे थे तो लोग इनका खूब ज्यादा मजाक उड़ा रहे थे लेकिन जब इन्होंने इन मॉडल्स को बनाकर तैयार कर लिया तब लोग इन्हें तारे जमीन वाला लड़का कह कर बुलाते हैं.

Back to top button