India

एक ही परिवार के चार भाइयों-बहनों ने पास की UPSC की परीक्षा, चारों भाई बहन IAS-IPS बनकर कर रहें हैं देश की सेवा

UPSC की परीक्षा पास करना अपने आप में ही एक बहुत बड़ी बात मानी जाती है क्योंकि यह भारत की सबसे कठिन परीक्षा मान जाती है. इस परीक्षा को हर साल लाखों लोग देते हैं लेकिन इस परीक्षा को बहुत कम लोग पास कर पाते हैं. लेकिन क्या आपने कभी सुना है इस कठिन परीक्षा को एक ही परिवार के चार भाई बहनों ने पास कर लिया हो, अगर नहीं तो आज के इस लेख में हम आपको एक ऐसे परिवार से मिलाने वाले हैं जिनके परिवार से चार लोगों ने यूपीएससी की परीक्षा पास की है और यह चारों एक दूसरे के भाई-बहने हैं.

इस लेख में हम जिस परिवार का जिक्र कर रहे हैं वह परिवार उत्तर प्रदेश के लालगंज का रहने वाला है. बता दें कि इस परिवार के चार सदस्यों ने UPSC की परीक्षा पास की है. बात करें इनके पिता की तो इनके पिता ग्रामीण बैंक के पूर्व मैनेजर रह चुके हैं इनके पिता का नाम अनिल प्रकाश मिश्रा है और इन्होंने अपने चारों बच्चों को कुछ इस कदर शिक्षा दी कि इनके चारों बच्चों ने यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली.

इन चार भाइयों और बहनों में सबसे बड़े बेटे का नाम योगेश मिश्रा है और इन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई लालगंज से ही पूरी की थी. इसके बाद इन्होंने मोतीलाल नेहरू नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से बीटेक की पढ़ाई की और इसके बाद नोएडा में जॉब करने लगे और नोएडा में जॉब करते करते इन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू की और साल 2013 में इन्होंने यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली.

योगेश मिश्रा के बाद इनकी बहन क्षमा मिश्रा भी यूपीएससी की तैयारी करने लगी और तीन बार असफल होने के बाद भी इन्होंने कभी हार नहीं मानी और अंतत चौथे प्रयास में उन्होंने आखिरकार यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली. आपको बता दें कि वर्तमान में क्षमा मिश्रा एक आईपीएस अधिकारी के तौर पर देश की सेवा कर रही है.

इसके बाद इनकी दूसरी बहन माधुरी मिश्रा ने भी यूपीएससी की परीक्षा देने का फैसला किया. माधुरी मिश्रा ने अपनी शुरुआती पढ़ाई लालगंज से किया और अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई भी लालगंज से ही किया था. इसके बाद माधुरी मिश्रा ने प्रयागराज से मास्टर्स की पढ़ाई की और फिर इन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू की और फिर साल 2014 में इन्होंने यूपीएससी की परीक्षा पास कर लिया. वर्तमान में यह झारखंड कैडर की आईएएस अधिकारी के रूप में काम कर रही हैं.

चार भाइयों और बहनों में 3 लोगों के सफलता के बाद से चौथे भाई ने भी यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए लगातार मेहनत करना जारी कर दिया और अपनी बहन माधुरी मिश्रा के सफलता के अगले साल ही यानी साल 2015 में इन्होंने यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली और तो और इन्होंने यूपीएससी की परीक्षा में 44 वी रैंक हासिल करके पूरे देश में अपने नाम का परचम लहरा दिया. फिलहाल यह बिहार कैडर के आईएएस अधिकारी के रूप में देश की सेवा कर रहे हैं.

Back to top button