India

10वीं 12वीं में हो गई थी फेल, लोगों ने कहा ये कुछ नही कर पाएगी, फिर पहली अटेम्प्ट में ही बन गई IAS

यूपीएससी का एग्जाम ना सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा कठिन एग्जामों की लिस्ट में शामिल है. इस एग्जाम को पास करना आसान बात नहीं होती है. हमारे देश के अधिकतर लोग यह सोचते हैं कि 10वीं और 12वीं में अच्छे अंक हासिल करने वाले छात्र ही आगे चलकर यूपीएससी जैसी परीक्षाएं पास कर पाते हैं लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला से मिलाने वाले हैं जिन्होंने लोगों की इस मानसिकता को बदल कर रख दिया है. जी हां हम बात कर रहे हैं अंजू शर्मा की, जिनका स्कूलिंग उतना अच्छा नहीं रहा है. जी हां अंजू शर्मा अपनी 10वीं और 12वीं के एग्जाम में फेल हो गई थी लेकिन आगे चलकर अंजू शर्मा ने पहले ही अटेम्प्ट में यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली.

अंजू शर्मा बचपन में पढ़ाई में इतनी तेज नहीं थी और यही कारण है कि अंजू शर्मा को बचपन में काफी ज्यादा मुश्किलों का सामना करना पड़ा था. दरअसल, अंजू शर्मा अपने दसवीं के प्री बोर्ड के एग्जाम में केमिस्ट्री विषय में फेल हो गई थी और तो और 12वीं क्लास में अंजू शर्मा इकोनॉमिक्स में फेल हो गई थी. जिसके बाद से इनका मनोबल टूट गया था लेकिन इस दौरान इनकी मां ने इनकी बहुत ज्यादा मदद की थी. हालांकि, आगे चलके अंजू शर्मा ने एक नया इतिहास रच दिया. दरअसल, अंजू शर्मा ने मात्र पहले अटेम्प्ट में ही यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली.अंजू शर्मा का मानना है कि आपकी असफलताएं ही आपको सफलता के लिए तैयार करती हैं.

अंजू शर्मा ने मात्र 22 साल की उम्र में अपने पहले अटेम्प्ट में ही यूपीएससी की परीक्षा पास कर ली और एक IAS अधिकारी बन गई. अंजू शर्मा की करियर की शुरुआत साल 1991 में असिस्टेंट कलेक्टर के रूप में हुई थी. हालांकि, वर्तमान में अंजू शर्मा सरकारी शिक्षा विभाग सचिवालय में प्रिंसिपल सेक्रेटरी के पद पर कार्यरत हैं और आज यह तमाम लोगों के लिए प्रेरणा बन चुकी हैं.

Back to top button